U.P. Web News
|
|
|
|
|
|
|
|
|
     
  News  
 

   

 Home>News 

जापान की सुनामी भी नहीं डिगा सकी भगवान बुध्द के प्रति विश्वास

Tags: Japan Tourist, Lord Budha, Kushinagar

Publised on : 2011-03-30      Time 09:45 IST ,             Last updat on: 2011-03-30      Time 09:45 IST

जापान की सुनामी भी नहीं डिगा सकी भगवान बुध्द के प्रति विश्वास

कुशीनगर आने वाले पर्यटकों की संख्या में कोई कमी नहीं, उत्साह बरकार

कुशीनगर 29 मार्च। (उप्रससे) भगवान बुध्द की परिनिर्वाण स्थली में पुजा अर्चना करने आने वाले जपानी पर्यटको को सुनामी भी नही दहला सकती। सुनामी से गैर प्रभावित इलाके के पर्यटको का आना जाना अभी भी यहां जारी है।  जपानी पर्यटको की नजर में यह सुनामी जापान-भारत पर कोई विशेष प्रभाव नही छोड़गी।

जापान से एक पर्यटको का एक दल सुनामी के बाद कुशीनगर आया जिनमें कुल 12 जपानी पयर्टक थें। जिन्होने महा परिनिवार्ण मन्दिर में जपान में आयी त्रासदी पर वहां कि स्थिति समान्य हो इसके लिए प्रार्थना की। जिन्होनें जपान की स्थिति पर वताया कि जहां भुकंम्प नही आया वहा स्थिति समान्य है। यह है कि यहां प्रभावित क्षेत्रों के पर्यटक नही रहे। पर्यटक के अनुसार पर्यटको के संख्या में कमी हो यह अस्थाई है। यह घटती बढती रहती है। हां यह है कि जपान में हुई त्रासदी से भारत में आने पर्यटको की संख्या में 25 से 30 प्रतिशत की गिरावट आयी है। जो अगले वर्ष यह कमी करीब 20 प्रतिशत रह सकती है। पर्यटको के अनुसार इसका सही आकंलन दुसरे वर्ष ही लगाया जा सकता है।पर्यटको के इस दल को लेकर आये एक सुवा नाम के आपरेटर ने वताया कि भारत आने वालो में करीब 20 प्रतिशत लोगों ने अपनी यात्रा रद करा दी और 10से 15 प्रतिशत वापस जापन लौट गये। जानकारों का कहना है कि जपानी दुसरे तरह के होते है ये संकट में भी धैर्य नही खोंते इनके यात्रा पर विशेष प्रभाव नही पडने वाला है। इनकी संख्या में विशेष कमी नही होने  वाली नही है। यह है कि कभी कम और कभी ज्यादा हो सकते है। जब कि आकडें बताते है कि बर्ष 2010 में इनकी संख्या 1639 थी जबकी वर्ष 2009 में यह संख्या 1306 थी। अगर पिछले दो वर्षो को इस श्रेणी में रखे तो यह देखने को मिलेगा कि 2007 में जपानी पर्यटको की संख्या 1387 रही तो वर्ष 2008 में यह वढ कर 1626 हो गयी। जानकारों का मानना है कि हालांकि पयर्टकों के आवागमन से देश का राजस्व तो प्रभावित होगा ही लेकिन इसका वूरा प्रभाव तब पडता जब जपानी पर्यटक यहां आना बन्द कर दें।

 

 

 
   
 
 
                               
 
»
Home  
»
About Us  
»
Matermony  
»
Tour & Travels  
»
Contact Us  
 
»
News & Current Affairs  
»
Career  
»
Arts Gallery  
»
Books  
»
Feedback  
 
»
Sports  
»
Find Job  
»
Astrology  
»
Shopping  
»
News Letter  
up-webnews | Best viewed in 1024*768 pixel resolution with IE 6.0 or above. | Disclaimer | Powered by : omni-NET