U.P. Web News
|
|
|
|
|
|
|
|
|
     
  News  
 

   

Home>News 
पेड न्यूज से घट रही है पत्रकारिता की विश्वसनीयता: पी.के.राय

Tags:

First Publised on : 2011:10:30       Time 21:20       Last  Update on  : 2011:10:31       Time 06:10

सुल्तानपुर में उपजा की बैठक
सुलतानपुर 30 अक्टूबर। (उप्रससे)। पेड न्यूज पत्रकारिता के अस्तित्व के लिए खतरा बन गई है। इससे पाठकों में भ्रम पैदा होता है। इससे पत्रकारिता खत्म हो रही है। पेड न्यूज का प्रचलन बढ़ने से पत्रकारिता की विश्वसनीयता घट रही है। इसे रोका जाना चाहिए। उक्त विचार नेशनल यूनियन आफ जर्नलिस्ट्स (इण्डिया) के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष पी.के.राय ने आज यहां उ.प्र.जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन (उपजा) की की जिला इकाई की बैठक में व्यक्त किये। इस अवसर पर उपजा के प्रदेश अध्यक्ष रतन कुमार दीक्षित और महामंत्री सर्वेश कुमार सिंह भी मौजूद थे।
बैठक में श्री राय ने कहा कि इलेक्ट्रानिक मीडिया से जुड़े प्रकरणों पर विचार के लिए मीडिया काउंसिल बनायी जानी चाहिए। क्योंकि प्रेस काउसिंल आफ इण्डिया के कार्यक्षेत्र में इलेक्ट्रानिक मीडिया नहीं आता है। उन्होने बताया कि मीडिया काउसिंल बनाने की मांग एनयूजे आई के द्वारा काफी लंबे समय से की जारही है। श्री राय ने बताया कि देश में पत्रकारों के लिए जो वेतन आयोग बने हैं उनके गठन में एनयूजे का विशेष योगदान है। एनयूजे ने ही इसके लिए संघर्ष किया है तथा पत्रकारों और अन्य प्रेस कर्मचारियों को वेतन आदि में सुधार के लिए अथक प्रयास किया है। पत्रकारों के प्रशिक्षण के लिए मण्डलीय प्रशिक्षण लगाने की आवश्यकता पर बल देते हुए श्री राय ने बताया कि उपजा शीघ्र ही इस दिशा में कार्य करेगी।
नगर मुख्यालय पर उत्तर प्रदेश जर्नलिस्ट एसोसिएशन की बैठक की गई। जिसमें कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पी0के0 राय व विशिष्ठ अतिथि रतन दीक्षित व प्रदेश महामंत्री सर्वेश कुमार सिंह का भव्य स्वागत किया गया।
उपजा के प्रदेश अध्यक्ष रतन दीक्षित ने कहा कि आज जनपदीय पत्रकारों के सामने सबसे ज्यादा चुनौतियां हैं। जिसकी हालत सबसे चिंता जनक है। ऐसे में हम सभी पत्रकारों को इस बैनर तले मिल बैठकर काम करना चाहिए, जिससे हमारी व्यक्तिगत समस्याओं का भी समाधान आसानी से हो सके। श्री दीक्षित ने कहा कि उपजा पत्रकारों का अग्रणी संगठन है। इसने पत्रकारों की लड़ाई सबसे यादा लड़ी है। आगे भी हम पत्रकारों के लिए संघर्ष जारी रखेंगे।
प्रदेश महामंत्री सर्वेश कुमार सिंह ने पत्रकारों से सीधे संवाद स्थापित करते हुए बताया कि मान्यता समिति भंग है किन्तु जिन पत्रकारों की जिले स्तर से जांच होकर मान्यता फाइल मुख्यालय भेजी जा रही है। उनकी मान्यता निदेशक सूचना अपने अधिकारों के तहत स्वीकृत कर रहे हैं। उन्होंने यह भी बताया कि तहसील स्तरीय पत्रकारों के साथ भी यही है यदि उनकी फाइल निदेशालय तक जा रही है तो उनकी मान्यता हो रही है।
स्थानीय लोगों की समस्याओं पर किये गये सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि अन्य जनपदों की तरह यहां का प्रेस क्लब भी आपसी सहयोग के साथ संगठनों को अपने हाथों में लेना चाहिए। जिससे उसका अस्तित्व बरकरार रहे। उन्होंने भरोसा दिलाया कि सुलतानपुर में सूचना अधिकारी के रिक्त पद पर नियुक्ति के लिए निदेषक सूचना से वार्ता करेंगे। उन्होंने बताया कि उपजा में ग्रामीण पत्रकारों को जोड़ने का भी निर्णय लिया गया है। उन्हें सदस्य बनाने के निर्देश दे दिये गए हैं। अत: सभी तहसीलों मे संयोजक नियुक्त करके तहसील और ब्लाक स्तरीय पत्रकारों को सदस्य बनाया जाए।
इस मौके पर वरिष्ठ पत्रकार शिव प्रकाश, वृजेन्द्र विक्रम सिंह, विजय विद्रोही, विवेक बरनवाल, अनिल द्विवेदी, दर्शन साहू, जितेन्द्र श्रीवास्तव, सतीश तिवारी आदि ने अपने विचार व्यक्त किये। कार्यक्रम की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष अरूण जायसवाल तथा संचालन महामंत्री सत्य प्रकाश गुप्ता ने किया। कार्यक्रम में राजेश सिंह, अशोक जायसवाल, संतोश यादव, अशोक मिश्र, सर्वेश श्रीवास्तव, पंकज गुप्ता, इस्मत जहरा यतीन्द्र शाही, विष्णु, गौरव सिंह, अभिशेक सिंह, करूणाशंकर तिवारी, अखिलेश बरनवाल, मनोज शर्मा, अतुल कुमार दीपक, राम दुलार मौर्य, सुनील कुमार वर्मा, सभापति वर्मा, राम सुन्दर यादव, कन्हैया लाल यादव, अमित जायसवाल, सुरेश मौर्य आदि मौजूद रहे।
सुल्तानपुर में होगी उपजा की प्रांतीय बैठक
बैठक में उपजा की जिला इकाई ने प्रांतीय कार्यकारिणी की बैठक आहूत करने का निर्णय लिया। बैठक आगामी जनवरी माह में आयोजित की जाएगी। बैठक आयोजित करने का आश्वासन जिला अध्यक्ष अरुण जायसवाल और अन्य सभी सदस्यों ने प्रदेश पदाधिकारियों को दिया। इसके साथ ही जिला इकाई के सदस्यों की संख्या शीघ्र ही एक सौ करने का भी आश्वासन दिया गया।
बिना पर्चे, बिना रशीद की बिकी त्यौहार पर मिठाईया
वाणिय कर कमिश्नरों ने लगाई लाखों की कर चोरी
सुलतानपुर, 30 अक्टूबर (उप्रससे) : जनपद का वाणिय कर कार्यालय पूर्णतया निष्क्रिय रह कर जनता का शोषण करा रहा है।
गौरतलब हो कि जिले का वाणियकर महकमा और इसका तथाकथित सचल दस्ता सिर्फ और सिर्फ कागजों पर ही चल रहा है। जनपद में महिनों चले दुर्गा पूजा महोत्सव और दीपावली पर्व पर केवल नगर मुख्याय पर ही करोडाें का व्यवसाय हुआ वो भी बिना पर्चा बिल्टी के वो भी पूरे वाणिय कर महकमें के असिटेंट वाणिय कर कमिशनरों की सेटिंग से जिसका खामियाजा मंहगाई की भारी कीमत से आमजनता को भुगतना पड़ रहा है। नगर की शायद ही किसी मिठाई की दुकान पर खरीददार को मिठाई खरीद की बिल दिया गया हो। किसी ने 500रू0 प्रति किलो मिठाई बेची किसी ने 1200रू0 किलो जहां अवन्तिका, प्रेमदीप, गयाप्रसाद, आगरा मिष्ठान भण्डार, रामबाबू, मधुवन, गुप्ता मिष्ठान, मेहमान स्वीट, मधुर मिष्ठान भण्डार समेत दर्जनों बडी दुकानो ने लाखों की मिठाई एक दिन में बेची वह भी बिना पक्का पर्चा के जिससे साफ जाहिर है कि सरकार को भी ये बडे व्यापारी इन कर कमिशनरों की सेटिंग-गेटिंग से लाखों के टैक्स में चूना लगाने वाले है। वहीं नगर के अढतियों ने हजारों कुन्तल चीनी, मैदा, घी, रिफाइंड व सरसों तेल का थोक व्यापार कच्चे पचर्ें पर करके सरकार को लाखों के टैक्स की खुलेआम चोरी की वो भी इन अधिकारियों की मिलीभगत से पूरे त्यौहार भर यह महकमा कही नहीं दिखा न ही सचल दस्ता ही दिखा। फर्जी टैक्स इंवाईस पर गल्लामण्डी समेत कई स्थानों पर पूरी की पूरी ट्रक अनोड की गई। मगर यह विभाग पूरी तरह से त्यौहारी पाकर निष्क्रिय बना रहा और जनता को ये कृत्रिम मंहगाई वो आढतियें और दुकानदार मनमाने रेट पर लूटते रहे, वहीं लाखों के पटाखें भी धडल्ले से वाणिय कर कार्याय के सामने खुर्शीद क्लब में मनमाने रेट पर बिना कर अदायगी के बिना पचर्ें, बिना रेट के बेचे गये। नगर में आपाधापी और लूट का यह आम था कि कहीं से भी ये नहीं लगता था कि जिले में प्रशासन व सरकार के कानून का राज हो बल्कि पूरी व्यापारिक गतिविधि लूटखोरों, मुनाफाखोरों, मिलावटखोरों के हाथों बिक चुकी थी। कहीं सिंथेटिक पनीर बिक्री, कहीं नकली दूध की डोडा बर्फी, कहीं मिलावटी सरसों का तेल बिना पर्चा, बिना बिल्टी बिका कोई बोलने वाला नहीं था। ''यूं'' मनी दिवाली माल बिका करोडाें का फिर भी सरकारी खजाना खाली।
दलित को बंधक बनाकर नौ माह तक बेगार कराई
सुल्तानपुर, 30 अक्टूबर। (उप्रससे)। दलित को मिठाई दुकानदार ने बंधक बनाक नौ माह तक बेगार करायी। दलित युवक अपनी ससुराल से लौटते समय मिठाई दुकानदार के यहां चाय पीने के लिए रुका था। वहीं उसकी नौकरी का झांसा देकर रोक लिया गया और फिर घर में बंधक बना लिया।
प्राप्त जानकारी के अनुसार थाना कोतवाली कादीपुर के ग्राम हिन्दुआवाद का निवासी प्रयाग सोनकर गत फरवरी माह में अपनी ससुराल गया था। वहां से वापस लौटते समय नगर में गोलाघाट स्थित मिश्रा मिष्ठान भण्डार पर चाय पीने के लिए रुक गया। दुकानदार ने उसे नौकरी का झांसा दिया और अपने घर में बंधक बना लिया। उसके बाद उससे नौ माह तक बेगार करायी गई। युवक जब अपने घर जाने की बात करता या भागने का प्रयास करता तो उसकी जमकर पिटाई की जाती थी। जानकारी होने पर पीड़ित की मां ने नेताओं का सहयोग लेकर अपने पुत्र को मुक्त कराया। इस संबंध में थाना कोतवाली में अपहरण, बंधक बनाकर मारपीट करने तथा दलित उत्पीड़न के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

जिला कारागार में कैदी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत
सुलतानपुर, 30 अक्टूबर (उप्रससे) : उत्तर प्रदेश के सुलतानपुर जिला कारागार में शनिवार को देर रात एक कैदी की संदिग्ध परिस्थितियों मे हो मौत हो गई। घटना के विरोध में कैदियों ने आज सुबह से भूख हडताल शुरु कर दी है, वही मृतक कैदी के परिजनों ने हत्या किये जाने का आरोप जेल प्रशासन पर लगाया है।
जिलाधिकारी गोविन्द राजू एनंएस ने बताया कि मृतक कैदी मुन्ना तिवारी (28) के शव को पोस्टमार्डम के लिए भेज दिया गया है, मामले की मजिस्ट्रेटी जॉच के आदेश भी जारी कर दिये गये है। उन्होने कहा कि जॉच पूरी हुए बिना मौत के कारणो के बारे में कुछ भी कहना जल्द बाजी होगी।
दूसरी ओर बैरक नं11 के कैदी घटना के विरोध में आमरण अनशन पर बैठ गये है। मृतक परिजनों ने जेल प्रशासन पर हत्या किये जाने का आरोप लगाते हुए कोतवाली नगर में प्राथमिकी दर्ज किये जाने की तहरीर दी है।

News source: ,    U.P.Samachar Sewa

Summary: 

News & Article:  Comments on this upsamacharsewa@gmail.com  
 
 
 
                               
 
»
Home  
»
About Us  
»
Matermony  
»
Tour & Travels  
»
Contact Us  
 
»
News & Current Affairs  
»
Career  
»
Arts Gallery  
»
Books  
»
Feedback  
 
»
Sports  
»
Find Job  
»
Astrology  
»
Shopping  
»
News Letter  
up-webnews | Best viewed in 1024*768 pixel resolution with IE 6.0 or above. | Disclaimer | Powered by : omni-NET