U.P. Web News
|

Article

|
|
BJP News
|
Election
|
Health
|
Banking
|
|
Opinion
|
     
   News  
 

   

शिवरात्रि पर शिवालयों में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़
Tag: Muradnagar NEWS
मुरादनगर, 09 अगस्त 2018  (उ.प्र.समाचार सेवा)।
श्रावण मास की शिवरात्रि के पावन असवर पर देवो के देव महादेव की पूजा आराधना बड़े ही श्रद्धा एंव भक्ति भाव से पूरे शहर व देहात में मनाया गया। गुरुवार तड़के तीन बजे से ही मंदिरों में भक्तों की लंबी कतारे दिखाई दी। मंदिरों में घण्टे व घडिय़ाल बजते रहें। कांवडिय़ां शहर के चारो कानों पर बने शिवमंदिरों की श्रृंख्ला में पहुंचे। शिव भक्त हाथों में पूजन की थी लिये मन में ओम् नम: शिवाय् का जाप करते हुए प्रभु की आराधना करते हुए दिखाई दिए। सुबह से ही शिवालयो में प्रभु के दर्शन और पूजन के लिए भक्तों की भीड़ उमडी हुई थी। मंदिरो में जलाभिषेक, पंचाभिषेक, रूद्राभिषेक, हो रहे थे। शिवभक्तो ने नगर व देहात में स्थित मौहल्ला महाजनान में स्थित राधा कृष्ण मंदिर,दिल्ली मेरठ रोड़ स्थित श्रीसिद्ध हनुमान मंदिर परिसर शिव धाम, बड़ा शिवमंदिर बस स्टेण्ड, शिव मंदिर डिफेंस कॉलोनी,ओएफएम परिसर स्थित शिव मंदिर, दिल्ली मेरठ पर मनमनधाम,सुरना गाँव स्थित धुमेश्वर महादेव मंदिर समेत अन्य शिव मंदिरों में सुबह से देर रात्रि तक जलभिषेक करने के लिए भक्तो की लंबी लंबी कतारे लगी रही। इसका यह आलम रहा कि व्रतधारी कांवडिय़ों व शिवभक्तो ने सावन का फल प्राप्त करनें के लिए गुरुवार सुबह त्रयोदशी व रात्रि में 10बजकर 45 मिनट से चतुर्थदर्शी पर बाबा का जलाभिषेक किया। यह सिलसिला देर रात्रि तक चलता रहा कांवडिय़ों की आमद थम श्रद्धालुओं ने घण्टो खडे खडें अपनी बारी का इंतजार करते हुए नजर आये। भक्तो ने शिवरात्रि के पर्व पर पूजना अर्चना कर भगवान शिव को प्रसन्न कर अपनी अपनी मन्नते मांगी। 
भोले शंकर का अभिषेक:
महादेव का पंचामृत स्नान के बाद से अभिषेक किया गया। रुद्राभिषेक और शाम को भांग-ठंडई का चढ़ावा चढ़ा। बाबा का दर्शन करने के लिए भक्त जुट गये और करीब दो सौ मीटर दूरी तक कतार लगाकर बाबा के दर्शन के लिए प्रतीक्षा करने लगे। जब उनकी बारी आयी तो उन्होंने महामृत्युंजय का दर्शन किया।
गंगनहर में लगायी डुबकी:
गंगनहर छोटा हरिद्वारा तटो पर बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने यहॅा में डुबकी लगाकर शिव पूजा की और दान-पुण्य भी किया। चूंकि गंगा जी भगवान शिव की जटा से निकली हैं, इसलिए शिवरात्रि पर गंगा स्नान का एक अलग ही महत्व है।शिवरात्रि पर जगह-जगह भांग व ठंडाई का वितरण किया गया। 
पूजा अर्चना कर मनवांछित फल की कामना:
श्रद्वालुओ ने विधि-विधान से पूजा अर्चना की व मनवांछित फल प्राप्ति की कामना की जिसमें लोगो नौकरी विहिन थे उन्होनें नौकरी के लिए,जिनकी शादी नहीं हुई उन्होनें शादी के लिए,जिनके संतान नहीं उन्होनें संतान के लिए प्रार्थना करते हुए दिखाई दिए। इस अवसर पर मंदिरों में घंटे-घडिय़ाल की सात्विक गूंज के साथ नम: शिवाय व हर-हर महादेव के जयकारे लगते रहे। पूजा-अर्चना का यह क्रम पूरे दिन चलता रहा तथा रात तक जारी रहा। शिवमंदिरों पर भजन-पूजन, कथा, कीर्तन, शिवपुराण, रूद्राभिषेक, श्रीरामचरितमानस का पाठ भी चलता रही।
हर-हर महादेव से गूंजे शिवालय:
मुरादनगर शहर व देहात में भगवान भोले के शिवालयों में हर-हर महादेव का जयघोष हुआ। सभी मंदिरों में भोर में मंगला आरती के बाद भक्तों को दर्शन कराया गया। इन शिवालयों में मुरादनगर स्थित गाँव सुराना स्थित धूमेश्वर महादेव मंदिर ,मननधाम मंदिर,शिव मंदिर,डिफैंस कॉलोनी शिव मंदिर,रेलवे स्टेशन मंदिर राधाकृष्ण मंदिर,ओएफएम स्थित शिव मंदिर,सत्यनाराण मंदिरो के साथ अन्य शिवालयों में हर-हर महादेव की गूंज रही। भोर से ही जुटने लगे थे भक्त लाखों भक्तों ने किया दर्शन-पूजन हर तरफ हर- हर महादेव की गूंज।
फूलों से सजा बाबा का दरबार:
मुरादनगर शहर व देहात एरिया में स्थित शिवालयो को गेंदा, गुलाब, चंपा, चमेली, से सजाया गया था। हर तरफ फूलों की खुशबू बिखर रही थी और भक्तों का जयघोष लोगों को बाबा की भक्ति में गोते लगवा रहा था।
संयमित रहे भक्त:
भक्तों को कतारबद्ध करने के लिए कई मंदिरो के बाहर पुलिस का इंतजाम किया गया था और भक्तों ने भी संयमित व्यवहार किया। आस्थावानों के हुजूम को देखते हुए बलियो लगाई गई थी। जिसके जरिये भक्त बाबा के दर तक पहुंचे।
ये कहते है एसओ:लक्षेंद्र सिंह  
एसओ लक्षेंद्र सिंह ने बताया कि जलाभिषेक के दौरान किसी भी मंदिर से कोई अप्रिय समाचार नहीं मिला है। 
 

ड़ाक कांवड़ की रफ्तार बनी मौत की वजह-

एक बाईक सवार ने तोड़ा दम,जबकि कई अन्य घायल-
मुरादनगर। डाक कांवड़ की रफ्तार ओर सबसे आगे निकलने की होड़ एक बाइक सवार की मौत की वजह बन गई। जबकि दिल्ली मेरठ रोड़ पर विभिन्न स्थानों पर आधा दर्जन से अधिक लोग गम्भीर रुप से घायल हो गए। वहीं घालयों को भिन्न हॉस्पिटल में उपचार हेतु एडमिट कराया गया है।
                    हरिद्वार से गंगाजल लेकर लौट रहे आ रहे शिवभक्त डाक कांवडिय़ा समय के आभाव के चलते अपनी गाडिय़ों की रफ्तार तेज कर सबसे आगे निकलने की होड़ में लगे रहे,जिनकी चपेट में आकर कई लोग चोटिल भी हो गये। इसके चलते गुरुवार दिल्ली मेरठ रोड स्थित बस अड्डे के समीप गति से चल डाक कांवड़ गाडी ने एक बाईक सवार को टक्कर मार दी। टक्कर लगने से युवक घायल हो गया। लोगो ने उसे निकटवर्ती हॉस्पिटल में भर्ती कराया जहां चिकित्सको ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस के मुताबिक मृतक की पहचान (25)वर्ष बब्लू निवासी शास्त्री पार्क दिल्ली के रुप में हुई है। इसके अलावा डाक कांवड गाडी ने एक युवक को रांैद डाला। लोगो की मदद से उसे निकटवर्ती हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया जहा चिकित्सको ने उसकी हालात गम्भीर देखते हुये उसे दिल्ली के लिये रैफर कर दिया। जानकारी के मुताबिक नगर की सक्को वाली गली निवासी सोनू पुत्र महेद्र दिल्ली मेरठ रोड़ स्थित बस स्टैंड पर कांवड़ यात्रा देखने गया था। इसी दौरान एक तेज र$फ्तार डाक कावड़ गाडी ने उसे रौंद डाला। यह देख स्थानीय लोगो ने उसे उपचार के लिये निकटवर्ती हॉस्पिटल में भर्ती कराया जहां चिकित्सको ने उसकी हालत नाजूक देख दिल्ली के लिये रैफर कर दिया। इसके अलावा कई पैदल चल रहे कावंडिय़ा, व अन्य लोग चोटिल हो गये।
------------------
स्नान करते समय कांवडिय़ा डूबा-
मुरादनगर। दोस्तों से कांवड़ लेकर लौट रहा एक कांवडिय़ा बुधवार सायं गंगनहर(छोटा हरिद्वार) स्नान करते समय डूब गया। साथियों ने उसकी पुलिस के साथ मिलकर तलाश की लेकिन उसका कोई सुराग नहीं चल सका। 
                जानकारी के मुताबिक दिल्ली निवासी (25)वर्षीय अरुण अपने दोस्तों के संग देवभूमी हरिद्वार स्थित पतित पावनी गंगा मईया का जल भरकर लेकर निकला था, जब वह दिल्ली मेरठ रोड़ स्थित गंगनहर पर पहुंचकर स्नान करने लगे थे कि तीनों का संतुलन बिगडऩे से डूबने लगे। यह देख तीनों कांवडिय़ों ने शोर मचा दिया। गंगातट पर तैनात पीएससी गोताखोरों ने चीख पुकार सुनकर छंलाग लगाकर दो कांवडिय़ों को बाहर निकाल लाए। काफी तलाशनें के बाद भी अरुण का कहीं अता पता नहीं चल सका। डूबे कांवडियां के साथियों ने पुलिस के साथ मिलकर तलाश की लेकिन उसका कोई सुराग नहीं चल सका।
देवरिया काण्ड की होगी सीबीआई जांच कानून बनाकर हो राम मन्दिर का निर्माण
My Gov प्लेटफार्म से यूपी को बनाएं नालेज आधारित प्रदेश विधान सभाः 2018 का दूसरा सत्र 23 से
दलित आन्दोलन से कानून बनाने को मजबूर हुई भाजपा अगस्त क्रान्ति दिवस पर झण्डारोहण 9 को
Share as:  

News source: UP Samachar Sewa

News & Article:  Comments on this upsamacharsewa@gmail.com  

 
 
 
                               
 
»
Home  
»
About Us  
»
Matermony  
»
Tour & Travels  
»
Contact Us  
 
»
News & Current Affairs  
»
Career  
»
Arts Gallery  
»
Books  
»
Feedback  
 
»
Sports  
»
Find Job  
»
Astrology  
»
Shopping  
»
News Letter  
up-webnews | Best viewed in 1024*768 pixel resolution with IE 6.0 or above. | Disclaimer | Powered by : omni-NET